Tuesday, July 17th, 2018

मुंबई में बारिश से प्रभावित 1000 लोगों को डब्बावालों ने खिलाया खाना

मुंबई
मुंबई के डब्बावाला यानी टिफिन ले जानेवाले लोगों ने एक बार फिर से यह साबित कर दिखाया है कि बीएमसी भले ही जनता की बेहतरी के लिए किए गए वादों को तोड़े पर वे हर मौसम में अपना काम उसी जज्बे के साथ करते रहेंगे। 

दरअसल, जहां एक ओर मुंबई के लोग मॉनसून की मार झेल रहे हैं, वहीं डब्बावालों ने आर्थिक रूप से कमजोर तबके के एक हजार लोगों को खाना खिलाया। इस काम के बाद हर कोई डब्बावालों की एकबार फिर से दिल खोलकर तारीफ कर रहा है। 

डब्बावाला असोसिएशन के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने बताया, 'जैसे ही हमें पता चला कि चर्चगेट और विरार में सर्विसेज बंद कर दी गई हैं हमने अपने लड़कों को संदेश भेजा कि वह घरों से टिफिन न उठाएं। यही नहीं, जिन लोगों ने टिफिन उठा लिए थे उन्हें वापस करने के लिए कह दिया गया। अन्यथा, खाना खराब हो जाता क्योंकि उस रास्ते पर डिलिवरी करने के लिए कोई तरीका नहीं था।' 

डब्बावालों का दावा है कि उन्होंने बारिश से प्रभावित तकरीबन एक हजार लोगों को खना खिलाया। इसके लिए उन्होंने रोटी बैंक नाम से चलाई जा रही संस्था के साथ हाथ मिलाया। बता दें कि रोटी बैंक की शुरुआत भूखों को खाना खिलाने के मकसद के साथ वर्ष 2017 में महाराष्ट्र के पूर्व डीजीपी डी सिवनंदन ने की थी। 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

10 + 14 =

पाठको की राय