ओंकारेश्वर
रविवार सुबह 7 बजे खोले गए 14 गेटो मे से 11 हजार 920 क्युमेक्स पानी छोड़ा जा रहा है  जिससे समस्त स्नान घाट जलमग्न हो गये। सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासनिक अमला घाटो पर पूरी तरह से मुस्तैद हैं सार्वजनिक उद्घोषणा केन्द्र से लगातार सतर्कता बरतने की मुनादी की जा रही हैं वही सभी घाटो पर स्नान करना प्रतिबंध कर दिया हैं।

एसडीएम श्रीमती ममता खेडे द्वारा एकाएक गौमुख घाट से लेकर ब्रम्हपुरी घाट तक लगे मोटर पंपो में विद्युत सप्लाई बंद करने के निर्देश दिये तभी कर्मचारियों द्वारा विद्युत प्रवाह तुरंत बंद करवाया गया नर्मदा के बढते जलस्तर से नर्मदा चट्टानों पर लटके मोटर पंप द्वारा करंट फैलने का भय बना हुआ था।
 
ओम्कारेश्वर बाँध के बैक वाटर से बह कर आई एक भैंस बाँध गेट की ऊँचाई कम होने से गेट में आकर फस गई बाँध गेट पर तैनात कर्मचारी ने तत्काल अपने अधिकारी को सूचना दी उस पर तहसीलदार उदय मंडलोई थाना प्रभारी जगदिश पाटीदार कुछ नाविकों के सांथ पंहूचे और सावधानीपूर्वक रेस्क्यू कर भैंस को जिंदा सकुशल बाहर निकाला।