नई दिल्ली 

कैफे कॉफी डे यानी सीसीडी के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ की मौत के एक महीने के अंदर ही उनके पिता का निधन हो गया है. सिद्धार्थ के पिता गंगैया हेगड़े ने रविवार को दुनिया को अलविदा कह दिया. गंगैया का निधन कर्नाटक में मैसूर के एक अस्पताल में हुआ.

बता दें कि गंगैया की उम्र करीब 96 साल थी और वह लंबे समय से बीमार थे. वह ऐसी स्थिति में थे कि जब उनके इकलौटे बेटे सिद्धार्थ ने दुनिया को अलविदा कहा तो उन्हें इस बात का पता भी नहीं कि अब उनका बेटा नहीं रहा. गंगैया लंबे समय से अस्पताल में भर्ती थे.

 
वीजी सिद्धार्थ के दुनिया से जाने के बाद परिजनों ने बताया था कि मौत से कुछ दिन पहले ही उन्होंने अस्पताल में जाकर पिता से मुलाकात की थी और वृद्धावस्था में उनकी स्थिति देखकर भावुक हो गए थे. गौरतलब है कि गंगैया के बेटे सिद्धार्थ का शव 31 जुलाई को नेत्रावती नदी के ब्रिज के पास मिला था.

बता दें कि सीसीडी के मालिक वीजी सिद्धार्थ के गुमशुदा होने के लगभग 36 घंटों के बाद उनका शव मिला था. उन्होंने कथित रूप से नदी में छलांग लगाकर खुदकुशी की थी. अपनी जान देने से दो दिन पहले सिद्धार्थ (60) ने अपने कर्मियों को संबोधित करते एक पत्र में खुलासा किया था कि वे कर्ज में बुरी तरह डूबे हुए थे.