मथुरा 
गोपियों संग रास रचाते कान्हा तो कहीं माखन चुराते कान्हा, भगवान कृष्ण के जन्मोत्सव पर पुलिस लाइन समेत शहर के अलग-अलग स्थानों पर सजी झांकियों ने भक्तों का मनमोह लिया। जन्माष्टमी पर सबसे बड़ा कार्यक्रम पुलिस लाइन में आयोजित हुआ। इसमें राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ, उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री महेन्द्र सिंह, मंत्री स्वाति सिंह, मंत्री चेतन चौहान समेत राज्यमंत्री मोहसिन रजा अतिथि के तौर पर उपस्थित थे।

बड़ी संख्या में लोगों ने भगवान श्रीकृष्ण की विभन्नि लीलाओं को दर्शाती झाकियों के दर्शन किए। मुख्यमंत्री ने पुलिसकर्मियों को कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई दी और उनके काम को भी सराहा। मुख्यमंत्री ने पुलिस लाइन स्थित स्कूल के छात्रों को रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत करने पर 51 हजार रुपये का पुरस्कार दिया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने 11 साल बाद जेल और पुलिस थानों में जन्माष्टमी का आयोजन फिर शुरू कराया है। 

यमुना जी में कालिया नाग के उपर मर्दन करते, अपनी अंगुली पर गोवर्धन पर्वत उठाये और माखन चुराते कान्हा समेत कई लीलाओं को पुलिस लाइन में दर्शाती झांकियों को बहुत ही आर्कषक रूप से प्रदर्शित किया गया था। पुलिस लाइन पण्डाल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसमें वृन्दावन के कलाकारों ने कृष्ण लीला का मंचन किया। मुरारी लाल की टीम ने ब्रज की फूलों की होली खेली। कान्हा के जन्म के बाद प्रसाद वितरण किया गया।

रेडियो मुख्यालय और 35 वीं बटालियन पीएसी परिसर में भी जन्माष्टमी धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान जवानों ने भगवान कृष्ण के जन्म के समय बंदूको से सलामी दी। इसके अलावा मौसमबाग स्थित रामलीला मैदान के मानस मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया गया था। यहां पर कान्हा के जन्म के समय दूध, दही और शुद्ध घी से गोपाल का पंचामृत किया गया। 

जन्माष्टमी महोत्सव कल 
श्री श्याम परिवार की ओर से बीरबल साहनी मार्ग स्थित खाटू श्याम मंदिर में ह्यजन्माष्टमी महोत्सवह्ण का आयोजन शनिवार को किया जाएगा। श्री श्याम परिवार के संगठन मंत्री सुधीश गर्ग ने बताया कि इस बार यहां पण्डाल माखन हाण्डी और बांसुरी की थीम पर तैयार किया जा रहा है। जयपुर की सुरभि चतुर्वेदी और लखनऊ की मंजू यादव भजन सुनाएंगी। कन्हा के जन्म के समय 21 किलों का केक कटेगा और 56 भोग लगाया जाएगा।