नई दिल्ली 
एक तरफ जहां कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर हमले तेज कर रही है, वही पार्टी के अंदर कुछ नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला करने के फैसले से सहमत नहीं है। वरिष्ठ नेता जयराम रमेश के बाद अभिषेक मनु सिंघवी, शशि थरूर आदि ने भी यह बात दोहराई है। इन नेताओं का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बुरा कहना गलत है, वह देश के प्रधानमंत्री हैं। कांग्रेस इन नेताओं के बयानों पर टिप्पणी करने से बचती रही।

पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि उनके बयान पर कोई प्रतिक्रिया लेनी है, तो उनसे पूछिए। कई नेता मानते हैं कि कांग्रेस में स्थिति साफ नहीं है। पार्टी का काई नेता नहीं जानता कि उसका भविष्य क्या है। इसके अलावा पार्टी के अंदर अनुच्छेद 370 खत्म करने के मुद्दे पर मतभेद हैं।

कई नेता खुलकर सरकार के रुख का समर्थन कर रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस के लिए भाजपा से मुकाबला आसान नहीं है। इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा था कि मोदी का शासन का मॉडल पूरी तरह नकारात्मक गाथा नहीं है।  

सही कदमों की तारीफ होनी चाहिए : थरूर
कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने कुछ लोगों के ट्वीट का जवाब देते हुए रमेश के विचार का समर्थन किया। उन्होंने कहा, मैं छह साल से यह दलील देते आ रहा हूं कि मोदी जब भी कुछ अच्छा कहते हैं या सही चीज करते हैं तो उनकी तारीफ करनी चाहिए।