नई दिल्ली
क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने साल 2019 के लिए भारत के आर्थिक विकास दर अनुमान को घटाकर 6.2 फीसदी कर दिया है। इससे पहले, एजेंसी ने भारतीय अर्थव्यवस्था के 6.8 फीसदी की दर से आगे बढ़ने का अनुमान जताया था।
एजेंसी ने साल 2020 के लिए जीडीपी विकास दर अनुमान को 7.30 से घटाकर 6.7 फीसदी कर दिया है।

मूडीज ने एक बयान में बताया कि अर्थव्यवस्था में आई सुस्ती ने एशियाई निर्यात पर प्रतिकूल असर डाला है और कारोबार का अनिश्चित माहौल निवेश पर भारी पड़ा है।

उल्लेखनीय है कि अर्थव्यवस्था इन दिनों भारी सुस्ती के दौर से गुजर रहा है। ऑटोमोबाइल सेक्टर की हालत इतनी बदतर हो चुकी है कि कंपनियों को बिक्री में आई भारी गिरावट से निपटने के लिए न सिर्फ कर्मचारियों की छंटनी करनी पड़ रही है, बल्कि अस्थायी तौर पर उत्पादन पर भी ब्रेक लगाने को मजबूर होना पड़ रहा है।