इंसान भोजन के बिना तो ज्यादा समय तक जीवित रह सकते हैं, लेकिन बिना नींद के यह संभव नहीं है। वैज्ञानिक तौर पर अगर देखें तो सामान्य मनुष्य अपनी जिंदगी का एक तिहाई हिस्सा सोने में बिता देता है। वैसे आमतौर पर इंसानों के लिए आठ घंटे की नींद पर्याप्त मानी जाती है। हालांकि कुछ लोग इससे भी ज्यादा समय या कोई-कोई तो महज चार-पांच घंटे ही सोते हैं, लेकिन ऐसे इंसानों में असमय मरने की संभावना बढ़ जाती है, जबकि जानवरों में ऐसा नहीं है। उनके अंदर कई घंटों तक सोने की क्षमता रहती है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही जीवों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो दुनिया के सबसे अधिक और सबसे कम सोने वाले जीवों के रूप में विख्यात हैं।  

ये है नाईट मंकी। इनकी आंखें उल्लू की तरह और पूरा शरीर एक बंदर की तरह होता है। यही वजह है कि यह रात में भी देखने में सक्षम होते हैं। ये अधिकतर पनामा और उष्णकटिबंधीय दक्षिण अमेरिका में पाये जाते हैं। नाईट मंकी 24 घंटे में 17 घंटे सोने में ही बिता देते हैं।

दुनियाभर में सांपों की करीब 2500 प्रजातियां पायी जाती हैं, जिनमें सबसे लंबे और खतरनाक होते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि अजगर भी 24 घंटे में 18 घंटे सोते हैं।

दक्षिण अमेरिका और उत्तरी अर्जेंटीना में पाये जाने वाले विशालकाय आर्माडिलो भी सोने में माहिर होते हैं। ये 24 घंटे में 18.1 घंटे सोते ही रहते हैं।

ये है उत्तरी अमेरिका में पाया जाने वाला भूरा चमगादड़। यह जीव 24 घंटे में 19.9 घंटा सोता है।

ये है कोआला, जो ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है। यह एक तरह का भालू है। इसे दुनिया में सबसे अधिक सोने वाला जानवर माना जाता है। यह 24 घंटे में 22 घंटे सोता है।

जिराफ को तो आपने चिड़ियाघर में बहुत देखा होगा। आपको जानकर हैरानी होगी कि जिराफ एक बार में पांच मिनट जबकि 24 घंटे में महज 30 मिनट ही सोते हैं।