Wednesday, June 20th, 2018

ऐसे बनेगा आपका बच्चा स्मार्ट और इंटेलिजेंट


पैरेंटिंग सबसे चुनौतीपूर्ण नौकरियों में से एक है। बच्चे के भावनात्मक और बौद्धिक विकास को निर्धारित करने में एक बच्चा जो अनुभव और प्रशिक्षण प्राप्त करता है, वह बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बच्चे को बेहतर और स्मार्ट बनाने के लिए माता पिता को उचित प्लानिंग करना ज़रूरी है।

उन सभी उत्सुक माता-पिता के लिए अच्छी खबर यह है कि आप अपने बच्चे के मस्तिष्क शक्ति विकास को निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। अपने बच्चे को बुद्धिमान बनाने के लिए एक समीक्षक और एक प्रबंधक के तौर पर आपकी भूमिका काफी मायने रखती है। लेकिन, सुनिश्चित करें कि आप अपने बच्चे पर अतिरिक्त प्रेशर ना डालें और उसे कोई चीज़ करने के लिये मजबूर ना करें।

आपको अपने बच्चे की पसंद और नापसंद को समझने में समय लगता है, उन्हें सही रास्ते में निर्देशित करें और उन्हें कुशलता से प्रशिक्षित करें। हम यहां कुछ प्रभावी और आसान तरीके बता रहे हैं जो आपके बच्चे को बेहतर बनाने में मदद करेंगे।

अपने बच्चे को हेल्दी फूड की आदत डालने की शुरुआत घर से करें। ध्यान रखें कि घर पर बच्चे को हेल्दी फूड दें, जो बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास में मदद करे। बच्चे को जंक फूड, डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ देने से बचें।

शारीरिक गतिविधियां आपके बच्चे को आलस और मोटापे से बचाता है इसलिये बच्चे को बाहर जाकर खेलने की अनुमति दें। एक स्वस्थ शरीर सबसे महत्वपूर्ण कारक है जो आपके बच्चे के विकास को निर्धारित करता है।

अपने बच्चों की जिज्ञासा का सम्मान करें, जब वो आपसे कुछ पूछें तो उसे टालने के बजाए उसके बारे में बताएं और उनकी जिज्ञासा को संतुष्ट करें। अगर आप अपने बच्चे को स्मार्ट और बुद्धिमान बनाना चाहते हैं, तो उनके छोटे-छोटे सवालों को महत्व देने और उनका जवाब देकर उनकी जिज्ञासा को शांत करना ज़रूरी है। अगर आप बच्चे को बेहतर और स्मार्ट बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं, तो आपको बच्चे के छोटे से छोटे सवालों का जवाब देने में उत्सुकता दिखानी होगी।


अगर आप अपने बच्चे को बेहतर और स्मार्ट बनाना चाहते हैं, तो आपको कभी भी सामाजिक मेल-मिलाप के महत्व को नज़रअंदाज नहीं करना चाहिए। अपने बच्चे को दूसरों के साथ मिलने की अनुमति दें। इसे संभव बनाने का सबसे व्यावहारिक तरीका यह है कि अपने बच्चे को उसी आयु वर्ग के अन्य बच्चों के साथ खेलने दें। इस बात का भी ध्यान रखें कि बच्चे की किसी गलती पर अगर आप उसे दंडित करने के बारे में सोच रहे हैं तो किसी भी कीमत पर शारीरिक दंड देने से बचें क्योंकि बच्चे को मारने-पीटने से उसके कोमल मन पर बुरा असर पड़ता है।

बेड टाइम स्टोरी के प्रति बच्चों की काफी रूचि रहती है और आपको उनकी इस पसंद का ध्यान रखने की ज़रूरत है, बेशक वो आपकी कहानी को पूरी तरह समझे या ना समझे। बेड टाइम स्टोरी की यानि कि बच्चे के सोने के समय उसे कहानी सुनाने की आदत बना लें और एक दिन वो प्रतिक्रिया देकर आपको आश्चर्यचकित कर देंगे। इससे आपके बच्चे की कल्पना शक्ति बढ़ती है और वो कहानी के बारे में सोचकर उस पर प्रतिक्रिया देने की कोशिश करते हैं, जो बच्चे को बुद्धिमान बनाने का सबसे प्रभावी तरीका है।

मस्तिष्क खेलों को पेश करें जो एकाग्रता और संज्ञानात्मक कौशल की मांग करते हैं। यह सबसे अच्छी बात है कि आप अपने बच्चे को बुद्धिमान बनाने के लिए ये सब कर सकते हैं। लेकिन, सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा ऑफ़र किए जाने वाले गेम कुछ ऐसा है जो उनकी उम्र से मेल खाता है।

आजकल बच्चों के लिये कई तरह के ब्रेन गेम आते हैं, जिसमें एकाग्रता और कौशल की मांग होती है। आप अपने बच्चे को बुद्धिमान बनाने के लिये इन गेम्स का सहारा ले सकते हैं लेकिन ध्यान रखें कि आपके द्वारा ऑफर किए जाने वाले गेम उनकी उम्र से मैच खाता हो।

अपने बच्चों को क्रिएटिव बनाने के लिये बच्चे के नैचुरल टैलेंट को प्रोत्साहित करें। ज़रूरी नहीं है कि इसके लिये आपका बच्चा कोई क्राफ्ट बनाये या पेंटिंग करे, यह प्राकृतिक जिज्ञासा और रचनात्मकता के बारे में है जो बच्चा अपने आस-पास के परिवेश से सीखता है।

धैर्य रखें और ऐसा ना सोचें कि आपका बच्चा रातों-रात बदल जाएगा। अपने बच्चे को बुद्धिमान और बेहतर बनाने के लिये आपको काफी धैर्य रखने की ज़रूरत है। बच्चे के संपूर्ण विकास के लिये अपनी योजना पर बने रहें और आगे चलकर निश्चित ही आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

11 + 13 =

पाठको की राय