अगर मुंह में छाले हो जाएं तो न तो खाने-पीने में ही स्वाद आता है और न ही आराम मिलता है। अगर इसका सही समय पर और सही ढंग से इलाज न किया जाए तो फिर स्थिति और भी दर्दनाक हो सकती है। मुंह के छालों को माउथ अल्सर भी कहा जाता है। इसकी समस्या अधिकतर गर्मियों में होती है। छाले होने की स्थिति में मुंह का स्वाद ही गायब हो जाता है और हर वक्त अजीब-सी झनझनाहट महसूस होती है। बच्चे ही नहीं बल्कि बड़ों के भी मुंह में छाले हो सकते हैं।

माउथ अल्सर के कारण
1- मुंह में छाले कई बार शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी से हो जाते हैं तो कई बार डेंटल ट्रीटमेंट की दौरान किसी चोट की वजह से हो सकते हैं।
2- किसी व्यक्ति का जूठा खाने से भी माउथ अल्सर हो जाता है।
3- अगर गलती से गाल की अंदरूनी सतह कट जाए और जख्म हो जाए तो उससे भी माउथ अल्सर हो सकता है।
4- मुंह की साफ-सफाई न रखने से भी मुंह में छाले यानी माउथ अल्सर हो जाता है।

माउथ अल्सर के लिए घरेलू नुस्खे
अगर मुंह में छाले हो जाएं और असहनीय दर्द हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर से सपंर्क करें। इसके अलावा यहां कुछ घरेलू नुस्खे बताए जा रहे हैं, जो माउथ अल्सर को ठीक करने में मदद कर सकते हैं।

बर्फ और टी बैग्स
मुंह का छालों पर बर्फ लगाने से काफी फायदा मिलता है। इसके लिए बर्फ का एक टुकड़ा कुछ देर के लिए मुंह में रखें या फिर रगड़ें। इसके अलावा टी बैग्स से भी मुंह के छालों यानी माउथ अल्सर में आराम मिलता है।


बेकिंग सोडा
मुंह के छालों को ठीक करने के लिए बेकिंग सोडा भी इस्तेमाल किया जा सकता है। बेकिंग सोडा ना सिर्फ दर्द कम करता है बल्कि अल्सर ऐसिड्स के स्तर को कम कर छालों को ठीक करने में मदद करता है। इसके लिए बेकिंग सोडा में कुछ बूंद पानी मिलाकर एक पेस्ट बना लें और छालों पर लगाएं। कुछ देर ऐसी रहने दें और फिर कुल्ला कर लें।

नारियल का तेल
माउथ अल्सर के इलाज में नारियल का तेल भी काफी मदद करता है। इसमें ऐंटीमाइक्रोबियल और ऐंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं जो छालों की जलन और दर्द तो दूर करती ही हैं, उन्हें ठीक करने में भी मदद करती हैं। इसके लिए मुंह के छालों पर रोजाना नारियल का तेल लगाएं। कुछ दिनों में ही आराम होगा।

केला और शहद
पके केले को शहद के साथ मिलाकर छालों पर लगाने से काफी आराम मिलता है।