इस्लामाबाद
पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में पाकिस्तान एक फिर से भड़काऊ कदम उठाने जा रहा है. पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त के मौके पर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान पाक अधिकृत कश्मीर का दौरा करेंगे. इमरान खान PoK की राजधानी मुजफ्फराबाद में वहां की विधानसभा को संबोधित करेंगे. इस दौरान पाकिस्तान ने पीओके में अलगाववादियों के समर्थन में रैलियां आयोजित की हैं.

इमरान के दौरे पर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में कश्मीरी अवाम के समर्थन में रैलियां निकाली जाएंगी. पाकिस्तान सरकार ने 15 अगस्त के दिन को काला दिवस मनाने का ऐलान किया है. यह दिन भारत का स्वतंत्रता दिवस होता है. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के मुजफ्फराबाद में भारत विरोधी रैलियां भी आयोजित की गई हैं. इन रैलियों में बुरहान वानी और यासीन मलिक के समर्थन में भी नारे लगने की संभावना है.

पाकिस्तान अपने कब्जे वाले कश्मीर को 'आजाद जम्मू एवं कश्मीर' कहता है. एक सरकारी बयान में कहा गया है कि इमरान के साथ कई संघीय मंत्री भी 'आजाद जम्मू एवं कश्मीर' की राजधानी मुजफ्फराबाद जाएंगे. प्रधानमंत्री वहां एक सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लेंगे और वहां की विधानसभा को संबोधित करेंगे. बयान में कहा गया है कि इमरान अलग अलग राजनीतिक दलों के नेताओं से अलग से मुलाकात भी करेंगे.

पाकिस्तान पहले ही यह ऐलान कर चुका है कि भारत की ओर से जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे में बदलाव के खिलाफ वह इस बार 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस 'कश्मीर एकजुटता दिवस' और भारतीय स्वाधीनता दिवस (15 अगस्त) को 'काला दिवस' के रूप में मनाएगा. पाकिस्तान की सरकार ने 'कश्मीर एकजुटता दिवस' के लिए एक विशेष लोगो भी जारी किया है, जिस पर 'कश्मीर बनेगा पाकिस्तान' नारा लिखा हुआ है.