आयुष्मान खुराना एक के बाद एक हिट फिल्में देकर इन दिनों सबसे चर्चित बॉलिवुड ऐक्टर्स में से एक हैं। आयुष्मान की तारीफ उनकी ऐक्टिंग के अलावा उनकी ऑफबीट फिल्मों के लिए भी होती है। आयुष्मान ऐसी ही एक ऑफबीट फिल्म में नजर आने वाले हैं जो समलैंगिकता पर बेस्ड है। एक इंटरव्यू में आयुष्मान ने इस मुद्दे पर फिल्म बनने की जरूरत के बारे में बात की।

आयुष्मान खुराना की फिल्म 'आर्टिकल 15' इन दिनों सिनेमाघरों में चल रही है। इस फिल्म में वह एक आईपीएस अधिकारी का किरदार निभा रहे हैं जो जातिवाद के भंवर में फंस जाता है। इससे पहले उनकी फिल्म 'बधाई हो' मिडिल एज प्रेग्नेंसी पर बेस्ड थी। वहीं, 'शुभ मंगल सावधान' इरेक्टाइल डिसफंक्शन पर आधारित थी। अब आयुष्मान 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान' में काम कर रहे हैं जिसमें गे राइट्स के मुद्दे को दिखाया जाएगा।


एक इंटरव्यू में आयुष्मान ने कहा, 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान' जैसी फिल्म मेनस्ट्रीम स्पेस के लिए जरूरी है। इस फिल्म में हम इस कम्यूनिटी के लोगों से बात नहीं कर रहे हैं बल्कि यह उनके लिए है जो इस कम्यूनिटी के प्रति अलग धारणा रखते हैं। आयुष्मान ने कहा कि उन्हें आम लोगों तक पहुंचना है। लोगों को यह जानना चाहिए कि समलैंगिक लोगों को उनके अधिकार देना कितना जरूरी है।