दिशाओं का हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव होता है। यही वजह है कि जमीन खरीदनी हो, घर बनवाना हो या फिर घर की चीजों को रखने की बात हो। हमेशा वास्‍तु का ख्‍याल रखा जाता है। उसी के मुताबिक जमीन-घर की खरीद-फरोख्‍त या फिर घर की चीजों को रखते हैं। बहरहाल ये सबकुछ करने के पीछे एक ही उद्देश्‍य होता है कि हमारे जीवन में सुख-शांति और धन-ऐश्‍वर्य बना रहे। तो क्‍या आप जानते हैं कि बाकी चीजों को सही दिशा में रखना जितना जरूरी है उतना ही जरूरी है कूड़ेदान को सही दिशा में रखना। अन्‍यथा भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

वास्‍तु के मुताबिक घर में कभी भी उत्‍तर दिशा में कूड़ेदान नहीं रखना चाहिए। यदि गलती से भी आपने ऐसा किया है तो तुंरत ही कूड़ेदान को वहां से हटा दें। वास्‍तु कहता है कि उत्‍तर दिशा धन और अवसर प्रदान करने वाली दिशा है। ऐसे में यदि इस दिशा में कूड़ेदान रखा जाए तो करियर में परेशानियां आती हैं।

वास्‍तु कहता है कि अगर आप नौकरी की तलाश कर रहे हैं और बार-बा‍र निराशा हाथ लग रही हो तो घर में रखे कूड़ेदान की दिशा जरूर देख लें। वास्‍तु के मुताबिक उत्‍तर दिशा में कूड़ेदान रखने से नौकरी ढू़ंढ़ रहे व्‍यक्ति के जीवन में काफी दिक्‍कतें आती हैं। कई बार काफी निराशा होने से मानसिक तनाव भी बढ़ता है।

वास्‍तु के मुताबिक व्‍यापारियों को कभी भी उत्‍तर दिशा में कूड़ेदान नहीं रखना चाहिए। इसकी पीछे यह बताया गया है कि ऐसा करने से पेमेंट रिकवरी बाधित होती है। नए ऑर्डर मिलने में भी लगातार गिरावट आने लगती है। इसके अलावा पुराने ग्राहकों के साथ संबंधों में भी कटुता आने लगती है। ऐसे में कभी भूले से भी उत्‍तर दिशा में कूड़ेदान न रखें।