भिंड
जिले के पावई थाना क्षेत्र में स्थित रजपुरा गांव में खेत की मेढ़ पर वृक्षारोपण के विवाद को लेकर एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर गोलियां चला दीं। जिससे सीताराम नरवरिया नामक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा कर आरोपियों पर हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश प्रारंभ कर दी है।

दरअसल पावई थाना क्षेत्र के राजपुरा गांव में सीताराम महाराज मंदिर के पास सीताराम नरवरिया और विनोद सिंह के खेत आसपास में ही स्थित हैं, जिन पर कुछ दिनों पहले बरसात में उगने वाले नीम के पौधों को सीताराम ने खेत की मेढ़ पर लगा दिया। यह बात जब विनोद को पता लगी तो उसने इसका विरोध किया और पौधे उखाड़ने की कोशिश की। जिस पर से दोनों पक्षों में विवाद बढ़ गया। विवाद के बाद मौके पर पहुंची डायल हंड्रेड द्वारा दोनों पक्षों को समझाइश देते हुए थाने में आकर मामला बताने की बात कही। लेकिन विनोद नरवरिया अपने अन्य साथियों के साथ बंदूकों से लैस होकर पहले ही गांव के बाहर स्थित पुलिया पर घेराबंदी कर दी। जैसे ही सीताराम वहां पहुंचा तो विनोद एवं उसके साथियों ने सीताराम नरवरिया पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जिसमें एक गोली उसके सीने में लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

फायरिंग के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। जानकारी लगते ही पावई थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश प्रारंभ कर दी है।