Thursday, August 16th, 2018

रसोई में कभी न करें ये 5 भूलें, घर में आएगी दरिद्रता

वास्तु के हिसाब से वैसे तो घर के हर कमरे का अलग महत्व है लेकिन रसोई को खास जगह मिली हुई है. वास्तु के जानकार मानते हैं कि इस जगह सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह सबसे जरूरी है क्योंकि खाने से ही शरीर के साथ मन का स्वास्थ्य तय होता है.


कई बार लोग सुबह के खाने की तैयारी करते हुए चाकू आदि प्लेटफॉर्म पर रातभर ऐसे ही छोड़ देते हैं. चाकू को हमेशा धो-पोंछकर उल्टा करके रखें.


किचन में नल खुला छोड़ देना या पानी लीक करना जैसी बातें घर में धन और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां लाती हैं. वैसे घर के किसी भी हिस्से में बहता पानी अच्छा नहीं माना जाता.


कई बार लोग सुबह के खाने की तैयारी करते हुए चाकू आदि प्लेटफॉर्म पर रातभर ऐसे ही छोड़ देते हैं. चाकू को हमेशा धो-पोंछकर उल्टा करके रखें.


कोशिश करें कि सूरज ढलने के वक्त या उसके बाद किसी को भी दूध, दही और प्याज न देना पड़े और न ही मांगना पड़े, इससे घर में दरिद्रता आती है.


कभी भी बिस्तर पर खाने की जूठी थाली न रखें और न ही बिस्तर पर बैठकर खाना खाएं. बीमार लोगों के लिए टेबल पर थाली रखें और जूठा गिरने पर तुरंत साफ करें.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

6 + 11 =

पाठको की राय