नई दिल्ली
फॉर्ड इंडिया ने 22,690 पिछली जनरेशन Endeavour SUV वापस मंगाई (रिकॉल) हैं। कंपनी इन एंडेवर के फ्रंट एयरबैग इन्फ्लैटर्स की जांच करेगी। जिन एंडेवर को वापस मंगाया गया है, वे सभी फॉर्ड के चेन्नै प्लांट में फरवरी 2004 से सितंबर 2014 के बीच बनाई गई हैं। इन 22,690 यूनिट में वर्तमान जनरेशन और हाल की सेकंड जनरेशन एंडेवर शामिल नहीं हैं।

अमेरिकी ब्रैंड फॉर्ड ने यह भी घोषणा की है कि वह सितंबर 2017 से अप्रैल 2019 के बीच गुजरात में कंपनी के साणंद प्लांट में बने कई अन्य मॉडल्स की भी जांच करेगा। इन मॉडल्स में फिगो, फ्रीस्टाइल और अस्पायर कारें शामिल हैं। कंपनी इन कारों के बैटरी मॉनिटरिंग सिस्टम (BMS) की वायरिंग की जांच करेगी।

फॉर्ड उन ग्राहकों से व्यक्तिगत रूप से संपर्क करेगा, जिनकी कारों की जांच की जानी है। प्रभावित पार्ट्स को कंपनी की डीलरशिप पर रिप्लेस किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले सितंबर 2018 में फॉर्ड ने 7,249 इकोस्पोर्ट रिकॉल की थी। तब कंपनी ने नवंबर 2017 से मार्च 2018 के बीच बनी इकोस्पोर्ट फेसलिफ्ट के पेट्रोल मॉडल को वापस मंगाया था।

फॉर्ड ने सब-कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में बढ़ते कॉम्पिटिशन को देखते हुए हाल में इकोस्पोर्ट रेंज को अपडेट किया है। इकोस्पोर्ट की टक्कर में मारुति ब्रेजा और टाटा नेक्सॉन के अलावा हाल में लॉन्च हुई ह्यूंदै वेन्यू और महिंद्रा एक्सयूवी300 जैसी सब-कॉम्पैक्ट एसयूवी हैं। वहीं, दूसरी ओर फॉर्ड एक नई मिड-साइज एसयूवी लाने की भी तैयारी कर रहा है। यह एसयूवी कंपनी महिंद्रा के साथ मिलकर बनाएगी।