लाहौर
पाकिस्तान, करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब के लिए 14 गुना अधिक यानि 42 एकड़ जमीन आवंटित करेगा। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गवर्नर ने कहा है कि करतारपुर गलियारे पर 80 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। यह गलियारा पाकिस्तान के करतारपुर में दरबार साहिब को गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को जोड़ेगा। भारतीय सिख श्रद्धालु इससे वीजा मुक्त आवाजाही कर पाएंगे।
‘द न्यूज’ के मुताबिक, पंजाब के गवर्नर चौधरी मोहम्मद सरवर ने मंगलवार को करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब के लिए जमीन आवंटन तीन एकड़ से बढाकर 42 एकड़ करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जमीन पर किसी भी प्रकार का निर्माण नहीं होगा।

परियोजना पर कार्य की रफ्तार की समीक्षा के लिए गलियारे का दौरा करने के दौरान सरवर ने कहा, 'हम दुनिया भर में रह रहे सिख भाइयों को यह संदेश देना चाहते हैं कि गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर के लिए जमीन में कटौती नहीं होगी। इसकी बजाए, गुरुद्वारा दरबार साहिब के लिए 42 एकड़ जमीन और खेती के लिए 62 एकड़ जमीन आवंटित की जा रही है।' उन्होंने कहा, 'इस तरह, गुरुद्वारा दरबार साहिब के लिए कुल 104 एकड़ जमीन दी जाएगी।'

धार्मिक पर्यटन और धरोहर के लिए कमेटी के प्रमुख गवर्नर ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर के लिए कुल 408 एकड़ जमीन दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान के दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए करतारपुर गलियारे का 80 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और उम्मीद है कि इस साल गुरु नानक की 550 वीं जयंती के पहले इसे पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करतारपुर गलियारे के शुभारंभ समारोह में शिरकत करेंगे।