ग्वालियर
पिछले हफ्ते भोपाल में राजनीतिक हलचल मचाने के बाद कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य आज फिर चर्चा में आ गए. उन्होंने ग्वालियर में अपने निवास शाही महल में सरकारी अफसरों की बैठक ले ली. अफसर कह रहे हैं ये बैठक नहीं सिर्फ चाय पर चर्चा थी, लेकिन सिंधिया की ये चाय बीजेपी के गले नहीं उतर रही है.

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया आज ग्वालियर में थे. यहां उन्होंने आला अफसरों को मुलाक़ात का न्यौता भेज दिया. अफसरों ने न्यौता कबूल कर लिया और सिंधिया के निजी निवास जय विलास पैलेस पहुंचे. ग्वालियर कमिश्नर बी एम शर्मा, कलेक्टर अनुराग चौधरी सहित नगर निगम कमिश्नर और स्मार्ट सिटी के तमाम अफसर उनसे मिलने पहुंचे.

करीब साढ़े तीन घंटे इनकी सिंधिया के साथ बैठक चली. बाद में बैठक से निकलकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा बैठक में शहर के विकास के एजेंडे पर मंथन हुआ. लेकिन कलेक्टर ने कहा कोई बैठक नहीं थी. ये तो बस चाय पर चर्चा थी.

लेकिन बीजेपी को ये चाय पार्टी रास नहीं आयी. उसने कहा-सिंधिया ना तो ग्वालियर के सांसद है ना विधायक. वो स्मार्ट सिटी से जुड़े किसी बोर्ड के मैंबर भी नहीं हैं. ऐसे में वो अपने महल में कैसे सरकारी बैठक ले सकते हैं. पार्टी इसका विरोध करेगी.