नई दिल्ली 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर के बाद भारतीय जनता पार्टी की नजर महेंद्र सिंह धोनी पर है. बीजेपी धोनी को पार्टी में शामिल करने की कवायद कर रही है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता संजय पासवान ने दावा किया है कि महेन्द्र सिंह धोनी जल्द ही क्रिकेट से संन्यास लेकर बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करेंगे. उन्होंने कहा कि इस संबंध में उनकी धोनी से कई बार मुलाकात और बातचीत भी हो चुकी है.

संजय पासवान ने aajtak.in से बातचीत करते हुए कहा कि महेंद्र सिंह धोनी ने क्रिकेट के जरिए देश की बहुत सेवा कर ली है.  अब उन्हें क्रिकेट से संन्यास लेकर समाज और देश सेवा के लिए राजनीति में आना चाहिए. पासवान ने दावा किया है कि धोनी से इस संबंध में कई बार उनकी बातचीत हो चुकी है. वह धोनी के लगातार संपर्क में हैं, उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही वह इस दिशा में फैसला लेंगे.

बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने जनसंपर्क के जरिए देश की महत्वपूर्ण हस्तियों से मुलाकात की थी, इस अभियान को पार्टी ने 'संपर्क फॉर समर्थन' नाम दिया था. इस अभियान के तहत बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने महेंद्र सिंह धोनी से मुलाकात कर उन्हें मोदी सरकार की उपलब्धियों और अपनी पार्टी के विचारों से अवगत कराया था.

संजय पासवान ने कहा कि धोनी के साथ-साथ उनकी नजर समाज के अन्य रोल मॉडलों पर भी है. खेल, फिल्म जगत, शिक्षा और साहित्य जगत से जुड़े लोगों को बीजेपी में शामिल करना हमारा मकसद है. बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी फिलहाल भारतीय क्रिकेट टीम से जुड़े हुए हैं. मौजूदा वर्ल्ड कप में धोनी का प्रदर्शन ठीक ठाक रहा है.

महेंद्र सिंह धोनी को सियासत में आने से पहले क्रिकेट से संन्यास लेना होगा. इसके बाद ही वे राजनीति में अपनी किस्मत आजमा सकते हैं. धोनी से पहले बीजेपी कई क्रिकेट खिलाड़ियों को अपने साथ मिला चुकी है. पंजाब में कांग्रेस के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पहले बीजेपी में ही थे और टीम इंडिया के मशहूर क्रिकेटर रहे हैं, लोकसभा चुनाव के दौरान ही क्रिकेटर गौतम गंभीर ने बीजेपी का दामन थामा. पार्टी ने उन्हें पूर्वी दिल्ली सीट से टिकट देकर चुनाव लड़ाया और वो जीतकर संसद पहुंचे हैं. चेतन चौहान कई बार बीजेपी के सांसद रहे चुके हैं और फिलहाल उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री हैं.