उमरिया
मध्य प्रदेश में पिछले दिनों हुई बारिश से कई जिलों में हालात बिगड़ गए हैं| वहीं प्रदेश के उमरिया में लगातार बारिश से नदिया उफान पर आ गई है, तो ज्यादा बारिश ने किसानों की भी मुश्किलें बढ़ा दी है| जलस्तर बढ़ जाने के कारण स्थानीय संजय गांधी ताप विधुत परियोजना के बांध के दो गेट खोल दिए गए| जिससे किसानों के खेतों में पानी भरा गया है |  खेत मे जोताई करना मुश्किल हो गया है वहीं आसपास के सरकारी कार्यालयों व घरों के समीप भी पानी भरने से लोग परेशान हैं।

क्षेत्र में पिछले दस दिनों से रूककर बारिश हो रही है, जिससे जगह जगह जलभराव की स्तिथि बन गई है| वहीं संजय गांधी ताप विधुत परियोजना के बांध में जलस्तर बढ़ जाने के कारण रात्रि 10 बजे से 2 गेट आधे आधे खोले गए। वहीं सामान्य जलस्तर होने के बाद दोपहर एक गेट 50 सेंटीमीटर खोलकर रखा गया है।  पावर परियोजना के जोहिला डेम में समुद्र तल से 476.2 मीटर पानी डेम में होना पाया गया है जिसके बाद गेट खोल दिये गए।

 बता दें कि संजय गांधी ताप विद्युत परियोजना के डेम में 6 गेट हैं जिनमें 1 गेट निर्देशानुसार खोल कर रखा गया है। परियोजना प्रबंधन ने जोहिला नदी में न नहाने व नदी तरफ न जाने की अपील की है। बताया जा रहा है कि जलस्तर कभी भी बढ़ सकता है अतः नदी से लगे ग्रामीण क्षेत्र के लोग व रपटा पुलिया से आवगमन करने वाले लोग सावधान रहें।