भोपाल

पंचायत एवं ग्रामीण मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि स्व-रोजगार गतिविधियों से जोड़ने के लिए आजीविका मिशन स्व-सहायता समूह की महिलाओं को राजमिस्त्री, प्लम्बर, इले‍क्ट्रीशियन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। समूह से जुड़ी लगभग 10 हजार महिला सदस्यों द्वारा इसमें रुचि व्यक्त की गई है। इनका प्रशिक्षण प्रारम्भ कर दिया गया है।

मंत्री श्री पटेल ने कहा कि म.प्र. राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन एवं अन्य योजनाओं के माध्यम से प्रदेश में तकनीकी प्रशिक्षण की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। मिशन की महिला सदस्यों को रूचि के अनुसार प्रशिक्षण के लिए चुना जाता है। अभी तक 7397 महिलाओं को राजमिस्त्री प्रशिक्षण के लिए चयनित किया गया है, जिनकी चरणबद्ध समूह के रूप में जिलों में प्रशिक्षण की कार्रवाई की जा रही है। अभी 510 महिलाएँ प्रशिक्षण पूर्ण कर रोजगार गतिविधियों से जुड़ चुकी हैं और 2195 महिलाएँ प्रशिक्षणरत है।

मंत्री श्री पटेल ने बताया कि प्लम्बर प्रशिक्षण के लिए 972 सदस्य चुने गए हैं। इनमें से 149 का प्रशिक्षण पूर्ण हो चुका है और 116 प्रशिक्षणरत है। इलेक्ट्रीशियन के लिए 1320 सदस्यों द्वारा रूचि व्यक्त की गई है। अभी 193 महिलाएँ प्रशिक्षणरत हैं।