सतना
सतना जिले के रामनगर में बीजेपी नेता द्वारा सीएमओ के साथ मारपीट के मामले में पुलिस ने आरोपी राम सुशील पटेल को गिरफ्तार कर लिया है. अमरपाटन कोर्ट ने पटेल की जमानत याचिका भी खारिज कर दी है, लिहाजा उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

शुक्रवार को रामनगर परिषद में अध्यक्ष राम सुशील पटेल सहित आधा दर्जन लोगों ने सीएमओ के चेंबर में घुसकर उनके साथ जमकर मारपीट की थी. इस घटना में सीएमओ देवरत्नम सोनी गंभीर रूप से घायल हो गए, वहीं मारपीट करने वाले अध्यक्ष को भी चोटे आई हैं.

सीएमओ देवरत्नम ने आरोप लगाया है कि अध्यक्ष अपने काले कारनामों के उजागर होने के चलते उसने नाराज थे और इसीलिए उन पर ये जानलेवा हमला किया गया है. वहीं पटेल ने आरोप लगाया है कि सीएमओ ने कांग्रेस के नेताओं के इशारे पर उनके साथ मारपीट की है.

इस मामले में दोनों ही पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस का कहना है कि जांच जारी है और तथ्यों तक पहुंचने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं. दोनों पक्षों का मेडिकल भी करवाया गया है. इस घटना की पूरी गंभीरता से जांच कर दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

हाल में इंदौर में बीजेपी के नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और विधायक आकाश विजयवर्गीय का बल्ला कांड सुर्खियों में हैं. बीजेपी विधायक द्वारा इंदौर में निगम अधिकारी को पीटने का मामला ठंडा भी नहीं हुआ है. ऐसे में बीजेपी के एक और नेता की अधिकारी के साथ मारपीट की घटना ने पार्टी के लिए मुश्किलें बढ़ा दी हैं.