भोपाल
बीआरटीएस लेन के अध्ययन के लिए सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली (सीआरआरआई) के सीनियर प्रिंसिपल साइंटिस्ट डॉ. एस वेलुमुरुगन मंगलवार को भोपाल पहुंचे, उन्होंने बैरागढ़ में लेन का निरीक्षण किया। डॉ वेलुमुरुग्न ने नवदुनिया से कहा कहा की लेन में बूम बेरियर लगने चाहिए। वे बीआरटीएस पर रिपोर्ट तैयार करेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। आज 25 जून को वेलुमुरुगन के साथ मंत्रालय में बैठक रखी गई है। अधिकारियों ने बताया कि वेलुमुरुगन के साथ पूरी टीम बीआरटीएस लेन का तकनीकी परिक्षण करेगी। इस दौरान लेन के निर्माण, फायदे व नुकसान, दुर्घटनाएं, भविष्य में ट्रैफिक सिस्टम, जनसंख्या व कनेक्टविटी पर विचार मंथन किया जाएगा। रिपोर्ट के आधार पर बीआरटी कॉरीडोर को तोड़ने या सुधार करने संबंधित निर्णय लिए जाएंगे।