उज्जैन 
इस साल गर्मी अपना असर दिखा चुकी है. अब चिंता बारिश की है. भीषण गर्मी में प्रदेश की नदियां और ताल-तलैया सूख गए हैं, अगर मॉनसून समय पर नहीं आया तो हालात बिगड़ सकते हैं. बाबा महाकाल की नगरी में देश में अच्छी वर्षा की कामनाकी गयी.में ब्राह्मणों ने अच्छी वर्षा के लिए पंचामृत अभिषेक और पूजा की.

देश और प्रदेश में भीषण गर्मी से कई जगह जल संकट गहराया हुआ है.जलस्रोत सूख गए हैं या सूख रहे हैं. पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है.कई जगह पानी की समस्या से लोग जूझ रहे हैं. उज्जैन में भी लगातार जल स्तर गिर रहा है और अब नगर निगम भी एक दिन छोड़कर पानी सप्लाई कर रहा है. इस वजह से ग्रामीण इलाकों में भी जल संकट गहराने लगा है.

बाबा की नगरी में गर्म और ताप के देवता कहलाने वाले  प्रसिद्ध अंगारेश्वर महादेव पर ब्राह्मणों ने देश में अच्छी वर्षा और कल्याण के लिए मंत्र जाप किया. क्षिप्रा नदी के जल से पंचामृत अभिषेक पूजन किया. पंडितों ने अंगारेश्वर महादेव से निवेदन किया है कि देश में अच्छी बारिश हो ताकि सूखे से निपटा जा सके.