मुंबई
सोने के हाजिर भाव में इस हफ्ते 400 से 800 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट आ सकती है। इससे पहले लगातार आठ दिन सोने के भाव में तेजी आई थी, जो पिछले पांच महीने में सबसे ज्यादा था। जून या जुलाई में अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की तरफ से रेट कट होने की उम्मीद पर रिस्की ऐसेट्स में इन्वेस्टर्स का इंट्रेस्ट जग रहा है।

इधर, खबर है कि अमेरिका के प्रेजिडेंट डॉनल्ड ट्रंप ने मेक्सिको के साथ अग्रीमेंट करके ट्रेड वॉर को रोक दिया है। इसके चलते इंटरनैशनल मार्केट में सोने के भाव में तेज गिरावट आई है। जहां तक ऐनालिस्टों की बात है तो उनके हिसाब से गिरावट आने पर बाजार उसे सोने में खरीदारी के मौके की तरह ले सकता है।

7 जून तक आठ ट्रेडिंग सेशन में कमोडिटी एक्सचेंज एमसीएक्स पर गोल्ड का भाव लगभग 4% चढ़कर ₹32,936 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया था। दिसंबर 2018 के बाद सोने के दाम में इतने कम समय में इतनी उछाल आने का यह पहला मौका था। एमसीएक्स पर सोने के भाव में उछाल की वजह अमेरिकी कमोडिटी एक्सचेंज पर आई रैली रही है। यहां सोने में मूवमेंट US कमोडिटी एक्सचेंजों के हिसाब से होता है। सोने के दाम में तेजी आने की वजह अमेरिका और उसके ट्रेडिंग पार्टनर्स- चीन और मेक्सिको के बीच ट्रेड वॉर को लेकर बनी चिंता और इकनॉमिक ग्रोथ में आ रही सुस्ती है।