जबलपुर 
जबलपुर जिले में दूर-दराज के ग्रामीण अंचलों के पशुपालकों को  अब पशुओं के बीमार होने पर अस्पताल नहीं जाना पड़ता। जिला प्रशासन द्वारा पशुपालक पशु संजीवनी योजना लागू कर पशुपालकों को नि:शुल्क घर पहुँच पशु उपचार सुविधा मुहैया कराई जा रही है।

इस योजना में राज्य स्तरीय कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर 1962 पर फोन करते ही नजदीकी विकासखंड में तैनात चलित पशु चिकित्सा वाहन मौके पर पहुँच जाता है। पशु कॉल सेंटर पर पशुपालक का मोबाइल नंबर लिया जाता है। वाहन पहुँचने की सूचना पशुपालक को एसएमएस से दी जाती है। पशुपालक के पास स्वयं का मोबाइल नहीं होने पर आस-पड़ोस का नंबर दिया जा सकता है।

चलित वाहन में पशु चिकित्सक, सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी, गौ-सेवक और जरूरी दवाइयाँ मौजूद रहती हैं। सभी वाहन जीपीएस सुविधा से लैस हैं, जिससे वाहनों के आवागमन की मॉनीटरिंग की जा सके।

पशु संजीवनी योजना में जबलपुर जिले में अब तक चलित पशु चिकित्सा वाहन द्वारा एक हजार 546 पशुओं का उपचार एवं 138 पशुओं का कृत्रिम गर्भाधान किया जा चुका है। जिले के सभी सात विकासखंड में अलग-अलग चलित पशु चिकित्सा वाहन संचालित हैं।