श्रीनगर 

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में तीन साल की बच्ची से कथित बलात्कार के विरोध में घाटी में विरोध प्रदर्शन जारी है। इस बीच मध्‍य कश्‍मीर के गांदेरबल जिले में एक किशोरी के साथ बलात्कार की घटना ने लोगों को और ज्‍यादा गुस्‍से में भर दिया है। पुलिस ने आरोपी युवक मुहम्मद आसिफ वानी (20) को अरेस्‍ट कर लिया है। बताया जा रहा है कि रेप की यह घटना रविवार को हुई थी। 
 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मध्य कश्मीर के गांदेरबल इलाके के एक गांव में हुई घटना के बारे में रविवार शाम को शिकायत मिली थी। अधिकारी ने बताया कि आरोपी मुहम्मद आसिफ वानी (20) को गिरफ्तार किया गया और वह उसी इलाके का रहने वाला है। उसके खिलाफ दंड संहिता की धारा 451 और 376 और पोक्सो कानून की धारा चार के तहत एक मामला दर्ज किया गया है। 

जांच के लिए विशेष दल गठित 
अधिकारी ने बताया कि लड़की की चिकित्सा जांच कराई गई है और मामले की जांच के लिए एक विशेष दल गठित किया गया है। गांदेरबल जिले के एसएसपी खलील अहमद ने भी वानी की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। बांदीपोरा की घटना में पीड़‍ित बच्‍ची के पिता ने गिरफ्तार किए गए बच्‍चे पर इस जघन्‍य अपराध के लिए आरोप लगाया है। 
 
बच्‍ची के पिता ने कहा, 'मेरी मासूम बच्‍ची आठ मई की शाम में रोजा खोल रहे थे, उसी समय से लापता थी। मेरी पत्‍नी ने बताया कि बच्‍ची अपने अंकल के साथ मार्केट गई है। नमाज के बाद जब मैं मस्जिद से लौटा तो मेरी बेटी तब तक नहीं आई थी। जब मैंने बच्‍ची के अंकल के पूछा तो उन्‍होंने बताया कि शाम सात बजकर 20 मिनट पर बच्‍ची को घर भेज दिया था। हम कई जगहों पर गए लेकिन कहीं पर भी बच्‍ची का पता नहीं चला।' 

घर से सटे स्‍कूल के बाथरूम में मिली बच्‍‍‍‍ची 
उधर, बच्‍ची की मां ने बताया, 'हमने एक अंतिम प्रयास के तहत हमने घर के बाहर तेज आवाज में बच्‍ची को पुकारा तो घर से सटे स्‍कूल के बाथरूम से बच्‍ची की हल्‍की सी आवाज आई। मैं उधर दौड़ी तो देखा कि मेरी बच्‍ची बाथरूम में बिना कपड़ों के थी। उसके कपड़ों पर खून के छींटे पड़े हुए थे। बच्‍ची ने आरोपी बच्‍चे पर पूरी घटना के लिए आरोप लगाया है। इसके बाद हम पुलिस के पास गए और उसे पकड़ा गया।' 

बता दें कि बांदीपोरा में तीन साल की इस बच्ची से कथित बलात्कार के विरोध में कश्मीर घाटी में मंगलवार को भी प्रदर्शन जारी रहे। राज्य पुलिस ने बलात्कार के मामले में जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया है और इस संबंध में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि घाटी में कई शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का निर्देश दिए जाने के बावजूद कई छात्रों ने बच्ची के साथ हुए कथित बलात्कार के खिलाफ रैली निकाली। 

घाटी में भारी विरोध प्रदर्शन 
महिला कॉलेज मौलाना आजाद रोड पर विरोध प्रदर्शन हुआ क्योंकि छात्र अपनी कक्षाओं से निकलकर परिसर में जमा हो गए। प्रदर्शनकारी छात्रों ने आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। शहर के हजरतबल इलाके में स्थित कश्मीर विश्वविद्यालय में भी प्रदर्शन हुए, जहां विभिन्न विभागों के सैकड़ों छात्र कश्मीर विश्वविद्यालय छात्र संघ (केयूएसयू) के बैनर तले परिसर के अंदर इकट्ठा हुए और अपना विरोध जताया। 

छात्रों ने आरोपी के खिलाफ नारेबाजी की और उसके लिए मृत्युदंड की मांग की। गौरतलब है क‍ि पिछले सप्ताह उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा जिले के संबल इलाके में पीड़‍ित बच्ची को चॉकलेट का लालच देकर एक स्थानीय युवक ने उससे कथित तौर पर बलात्कार किया था।