भोपाल

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के साथ ही राजनीतिक दलों ने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान करना शुरू कर दिया है। प्रदेश की राजधानी भोपाल सीट इस समय सियासत का केंद्र बनी है। दिग्विजय सिंह के नाम की घोषणा के बाद बीजेपी में तेजी से मंथन हो रहा है। बयानों का दौर भी शुरू हो गया है। कैबिनेट मंत्री और दिग्विजय समर्थक आरिफ अकील ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय से बड़ा हिंदूवादी नेता पूरे भाजपा में नही है दिग्विजय के लिए में अपनी जान भी दे सकता हूं। 

दरअसल, मंत्री अकील मंगलवार को सीहोर जिले में चुनाव का जायजा लेने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंंने कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर जीत का मंत्र देते हुए उन्हें दिग्गी के लिए माहौल बनाने और उनके समर्थन में प्रचार करने के लिए कहा। उन्होंने कार्यकर्ताओं को जनता के बीच पहुंचकर मुद्दे उठाने के लिए कहा। अकील ने मीडिया से चर्चा के दौरान बड़ा बयान देते हुए कहा कि भाजपा मुंगेरीलाल की तरह हसीन सपने देख रही है। उन्होंंने कहा कि दिग्विजय सिंह के खिलाफ बीजेपी को कोई चेहरा नहीं मिल रहा है, पार्टी के तोते उड़े हुए हैं। इस बार बीजेपी को यहां से जीत नहीं मिल रही है। उन्होंने सीधे पीएम को चुनौती देते हुए कहा कि दिग्वजिय के खिलाफ पीएम मोदी और अमित शाह भी चुनाव लड़लें तो नहीं हरा सकते।

गौरतलब है कि भोपाल लोकसभा सीट से दिग्विजय सिंह को कांग्रेस ने मैदान में उतारा है। उनके खिलाफ बीजेपी किस चेहरे को उतारे इस पर विचार चल रहा है। सोमवार को दिल्ली में देर रात तक बैठक चली। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह समेत पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी शिवराज को यहां से मैदान में उतार सकती है। उनके अलावा साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और कैलाश विजयवर्गीय ने भी दिग्गी के खिलाफ दावेदारी पेश की है। वहीं, आरिफ अकील सीहोर के जिला प्रभारी मंत्री भी हैं। भोपाल सीट में से सीहोर का विधानसभा क्षेत्र भोपाल लोकसभा सीट में आता है। इसलिए वह आज यहां कार्यकर्ताओं से मिलने और सिंह के लिए चुनाव में पूरी ताकत झोंकने के लिए जायजा लेने पहुंचे थे।