नई दिल्ली
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को बीजेपी और आरएसएस पर तीखा हमला बोला और कहा कि अब लोगों को तय करना है कि उन्हें गांधी का हिंदुस्तान चाहिए या फिर गोड्से का हिंदुस्तान चाहिए। उन्होंने यह उम्मीद भी जताई कि इस लोकसभा चुनाव के बाद देश में कांग्रेस की सरकार बनेगी। वह दिल्ली के बूथ लेवल कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुखातिब थे। 


'तय करें, गांधी का भारत चाहिए या गोड्से का' 
बीजेपी पर नफरत की राजनीति का आरोप लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता को तय करना है कि उन्हें कैसा भारत चाहिए। राहुल गांधी ने कहा, 'आप को तय करना है कि आप गांधी का हिंदुस्तान चाहते हैं या गोड्से का हिंदुस्तान चाहते है। एक तरफ प्यार है और दूसरी तरफ नफरत है।' 

दिल्ली की सभी 7 सीटों पर अकेले लड़ने का दिया संकेत 
राहुल गांधी ने दावा किया कि 2019 में कांग्रेस की सरकार आने वाली है। हम निर्णय ले चुके हैं कि हम न्यूनतम आय गारंटी देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने के साथ भारत रोजगार सृजन के मामले में चीन से स्पर्धा शुरू कर देगा। कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि कांग्रेस दिल्ली की सातों सीटों पर जीतेगी। इस तरह उन्होंने आम आदमी पार्टी से गठबंधन की संभावनाओं को एक तरह से खारिज कर दिया। 

जैश सरगना मसूद को छोड़े जाने पर कसा तंज 
कांग्रेस अध्यक्ष ने पुलवामा हमले का जिक्र कर जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को 1999 में केंद्र की तत्कालीन एनडीए सरकार द्वारा छोड़े जाने को लेकर तंज कसा। राहुल गांधी ने कहा, पुलवामा में बम फटा। CRPF के हमारे 40-45 लोग शहीद हुए। बम किसने फोड़ा, जैश-ए-मोहम्मद। मसूद अजहर याद होगा। अब यह 56 इंच की छाती वाले, आपको याद होगा कि जब इनकी पिछली सरकार थी तो एयरक्राफ्ट में मसूद अजहरजी के साथ जो आज नैशनल सिक्यॉरिटी अडवाइजर हैं अजीत डोभाल....मसूद अजहर को जाकर कांधार में हवाले करके आ गए।' बता दें कि 1999 में इंडियन एयरलाइंस के एक विमान का आतंकियों ने अपहरण कर लिया था और उसे अफगानिस्तान के कांधार ले गए थे। यात्रियों के रिहाई के बदले में मसूद अजहर और 2 अन्य आतंकियों को जेल से छोड़ा गया था। 


'पीएम मुझसे आंख नहीं मिला पाए' 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए गांधी ने कहा, '5 साल पहले देश में एक चौकीदार आया और कहा कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने आया हूं, मेरा 56 इंच का सीना है। अब किसी से भी पूछ लीजिए चौकीदार क्या है तो वह बता देगा कि चौकीदार चोर है।' उन्होंने कहा कि कांग्रेस का कमाल है कि आप लोग देश के कोने-कोने में सच्चाई पहुंचा देते हो। 

राहुल गांधी ने राफेल मामले का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा और कहा, 'हमने कुछ सवाल किए थे। चौकीदार संसद में डेढ़ घन्टे बोला, लेकिन अनिल अंबानी के बारे में नहीं बोला। प्रधानमंत्री आंख से आंख नहीं मिला पाए।' उन्होंने कहा, 'कुछ महीने पहले 3 प्रदेशों में चुनाव हुए। हमने वहां कहा कि मोदीजी ने झूठे वादे किए। हम आपसे झूठे वादे नहीं करेंगे और 10 दिन में किसानों का कर्ज माफ करेंगे। हमने दो दिन में यह काम कर दिया।' 

'PM का मेक इन इंडिया नाकाम' 
मेक इन इंडिया अभियान को पूरी तरह नाकाम बताते हुए राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा, 'पीएम मोदी लगातार मेक इन इंडिया की बात करते हैं लेकिन उनके शर्ट, जूते और फोन, जिससे वह सेल्फी लेते हैं- सभी मेड इन चाइना हैं।'